Filter selection

Author
Price

grammer

  • grid
  • Aupacharik Patra-Lekhan
    Om Prakash Singhal
    380 342

    Item Code: #KGP-786

    Availability: In stock

    औपचारिक पत्र-लेखन
    विषय एवं शैली की दृष्टि से पत्रों का एक महत्त्वपूर्ण वर्ग औपचारिक पत्रों का है। औपचारिक पत्र एक प्रकार के दस्तावेज होते हैं। जरूरत पड़ने पर उनका उपयोग साक्ष्य एवं प्रमाण के रूप में किया जाता है। अतएव उन्हें लिखते समय पर्याप्त सावधानी बरतने की जरूरत होती है। अब विभिन्न कार्यालयों में नियुक्त हिन्दी पढ़े-लिखे व्यक्तियों से हिन्दी पत्रचार में दक्ष होने की अपेक्षा की जाती है।
    औपचारिक पत्रों के विविध रूपों की  लेखन-शैली का सोदाहरण सैद्धांतिक विवेचन करने वाली पुस्तक का हिन्दी में सर्वथा अभाव है। विषयगत अपेक्षाओं एवं समय की माँग को ध्यान में रखकर लिखी गई यह पुस्तक हिन्दी में अपने विषय की पहली पुस्तक है।
    अनुप्रयुक्त हिन्दी के क्षेत्र में एक नया मार्ग प्रशस्त करने के कारण हिन्दी के प्रत्येक जागरूक पाठक और पुस्तकालय के पास इसका होना अनिवार्य है।
  • Karyalayi Anuvad Ki Samasyayen
    Dr. Bhola Nath Tiwari
    450 338

    Item Code: #KGP-KAKS HB

    Availability: In stock

    अनुवाद आज के युग की एक अनिवार्य आवश्यकता है।भारत मेंजिन विभिन्न प्रकार के साहित्यों का आज अनुवाद हो रहा हैउनमें कार्यालयी साहित्य प्रमुख है किंतु अभी तक इस प्रकार केअनुवाद की समस्याओं पर विस्तार से विचार नहीं हुआ है।प्रस्तुत पुस्तक इसी दिशा में एक प्रयास है।इसमें कार्यालयी अनुवाद से संबंधित सारी समस्याओं को एक ही स्थान पर दिया गया है।साथ हीपुस्तक के अंत में विभिन्न प्रकार के कार्यालयी अनुवाद के उदाहरण भी दिए गए हैं। विश्वास है यह पुस्तक ऐसे अनुवाद में रुचि रखने वाले लोगों के लिए उपयोगी सिद्ध होगी।

    सहयोगी लेखिकाओं और लेखकों के प्रति हम आभारी हैंजिनके सहयोग के बिना यह संकलन अधूरा रह जाता।


Scroll