Arogyadayi Vanaspatiyan

Ramesh Bedi

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
695.00 521 +


  • Year: 2012

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Amarsatya Prakashan

  • ISBN No: 978-81-88466-53-5

Ramesh Bedi

रामेश बेदी
बहुमुखी प्रतिभासम्पन्न लेखक और प्रकृति के कुशल फोटोग्राफर
जन्म : 20 जून, 1915, कालाबाग (अब पाकिस्तान)
शिक्षा : गुरुकुल कांगडी विश्वविद्यालय, हरिद्वार से अनिवासी के रूप में ।
ज़डी-बूटियों की खोज में श्री बेदी ने हिमालय तथा भूटान के हरे-भरे पहाडों और हिमालय-पार लद्दाख के उजाड़ पर्वतीय मरुस्थल में दुष्कर यात्राएं की । अभेद्य जंगलों  और दुरूह पर्वतों व घाटियों के विस्तृत दौरों में श्री बेदी ने जडी-बूटियों के दस हजार से अधिक नमूनों का संग्रह किया, जो राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय महत्व के हर्बेरियमों में सुरक्षित है । वनस्पति के विभिन्न क्षेत्रों में अनुसन्धान करने वाले वैज्ञानिकों के लिए ये बहुत उपयोगी हैं ।
प्रकाशन : वन्य जीव-जन्तु, जडी-बूटियां, फल, वृक्ष तथा यात्रा-वृत्तांत विषयक लगभग सौ पुस्तकें प्रकाशित । सैकडों लेख अंग्रेजी, रूसी, जर्मनी, जापानी, इतालवी, नेपाली, कन्नड़, पंजाबी, बंगाली, गुजराती, मराठी तथा उडिया आदि में अनूदित ।
यात्रा : अनुसन्धान-कार्यों के सिलसिले से ब्रिटेन, ब्राजील, कनाडा, भूटान और श्रीलंका की यात्रा ।
सम्मान : हिन्दी अकादमी, दिल्ली तथा दिल्ली संस्कृत अकादमी द्वारा प्रशस्ति-पत्र एवं साहित्यिक कृति सम्मान, केन्द्रीय पर्यावरण मंत्रालय द्वारा मेदिनी पुरस्कार, इंदिरा गांधी पर्यावरण पुरस्कार (मरणोपरांत) और अनेक विशिष्ट पुरस्कार ।

रपृति-शेष : 9 अप्रैल, 2003

Scroll