Nashta Mantri Ka Gareeb Ke Ghar

Prabha Shanker Upadhayaye

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
90.00 81 + Free Shipping


  • Year: 2010

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Jagat Ram & Sons

  • ISBN No: 9788188125647

नाश्ता मंत्री का गरीब के घर
विषमताओं विसंगतियों और विद्रूपताओं  से अटी है आज के जिंदगी । ऐसे अनुभवों को अनुभूत का, प्रहारात्मक तरीके से प्रस्तुत करना, व्यंग्य कहा जाता है । साथ ही मानव को कुंठाओं एवं जीवन-मूल्यों में स्खलन के प्रति भी फिक्रमंद होता है व्यंग्यकार । उसकी सोच का पैनापन पाठक के मन को कभी कचोटता है तो कभी उसका फक्कड़ मिजाज पाठक के मन को गुदगुदा जाता है । इसीलिए व्यंग्य के साथ हास्य का जुडाव हो गया है ।
प्रस्तुत संग्रह में नाना भाँति की महक सहेजे तीस व्यंग्य-पुष्प संकलित हैं, जिन्हें मैंने डेढ़ दशक की अवधि में लिखा है । समाज, व्यवस्था राजनीति, शिक्षा, विज्ञान, अर्थशास्त्र तथा दफ्तरी जिन्दगी इत्यादि विषयों पर कलम चलाने का प्रयास किया है । मैं अपनी लेखनी का तेवर दिखा पाने में कितना कामयाब हो सका हूँ इसका निर्णय तो प्रबुद्ध पाठक एवं सुधी समीक्षक ही करेंगे  ।
---प्रभा शंकर उपाध्याय 'प्रभा'

Prabha Shanker Upadhayaye

प्रभा शंकर उपाध्याय 'प्रभा'
जन्म : 1 सितम्बर, 1954 गंगापुर सिटी (राज०)
शिक्षा : विज्ञान विषय से स्नातक । हिन्दी में एम०ए० । पत्रकारिता में स्नातकोत्तर उपाधि पत्र। 
आजीविका : स्टेट बैक ऑफ़ बीकानेर एण्ड जयपुर में अधिकारी के पद पर कार्यरत ।
साहित्य-परिचय : विद्यार्थी काल से लेखन । तत्पश्चात कुछ वर्ष स्वतंत्र पत्रकारिता एवं साहित्य की विविध विधाओं में लेखन ।  दैनिक प्रजाजन के न्यूज ब्यूरो प्रमुख के पद पर कार्य । सरकारी सेवा में आने के पश्चात् मुख्यत: व्यंग्य विधा में ही लेखन । धर्मयुग, कादम्बिनी, सारिका, नवनीत मनोरमा, साप्ताहिक हिन्दुस्तान, नवभारत टाइम्स, जनसत्ता, दैनिक हिन्दुस्तान, पंजाब केसरी आदि में लगभग तीन सौ रचनाएँ प्रकाशित तथा आकाशवाणी से प्रसारित
उपलब्धियाँ/पुरस्कार/सम्मान : कादम्बिनी द्वारा आयोजित व्यंग्य कथा प्रतियोगिता : 1992 का पुरस्कार ।  वर्ष 1984 से 1994 के दशक में लिखी श्रेष्ठ हास्य-व्यंग्य कहानियाँ के अंतर्गत 'शोध- दिशा' के अध्ययन में रचना का चुनाव तथा संकलन में स्थान प्राप्न।  जवाहर कला केंद्र, राजस्थान द्वारा लघु नाट्य प्रतियोगिता में एक हास्य नाटक पुरस्कृत । राजस्थान लोक कला मंडल, बाड़मेर भारतीय युवा सेवा मंडल. करौली तथा स्व० रामचरण पाराशर शिक्षा समिनि  द्वारा अलग-अलग आयोजित प्तम्मान समारोह में प्राशस्ति पत्र प्राप्त ।

Scroll