Dus Pratinidhi Kahaniyan : Alpana Mishra

Alpana Mishra

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
335.00 268 +


  • Year: 2017

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 978-81-935471-3-7

दस प्रतिनिधि कहानियां अल्पना मिश्र

‘दस प्रतिनिधि कहानियां’ सीरीज़ किताबघर प्रकाशन की एक महत्त्वाकांक्षी कथा-योजना है, जिसमें हिंदी कथा-जगत् के सभी शीर्षस्थ कथाकारों को प्रस्तुत किया जा रहा है।
इस सीरीज़ में सम्मिलित कहानीकारों से यह अपेक्षा की गई है कि वे अपने संपूर्ण कथा-दौर से उन दस कहानियों का चयन करें, जो पाठकों, समीक्षकों तथा संपादकों के लिए मील का पत्थर रही हों तथा ये ऐसी कहानियां भी हों, जिनकी वजह से उन्हें स्वयं को भी ‘कहानीकार’ होने का अहसास बना रहा हो। भूमिकास्वरूप लेखक का एक वक्तव्य भी इस सीरीज़ के लिए आमंत्रित किया गया है, जिसमें प्रस्तुत कहानियों को प्रतिनिधित्व सौंपने की बात पर चर्चा करना अपेक्षित रहा है।
किताबघर प्रकाशन गौरवान्वित है कि इस सीरीज़ के लिए सभी कथाकारों का उसे सहज सहयोग मिला है। 
इस सीरीज़ की अत्यंत महत्त्वपूर्ण कथाकार अल्पना मिश्र ने प्रस्तुत संकलन में अपनी जिन दस कहानियों को प्रस्तुत किया है, वे हैं: ‘भीतर का वक्त’, ‘कथा के गैरजरूरी प्रदेश में’, ‘मिड डे मील’, ‘बेतरतीब’, ‘उनकी व्यस्तता’, ‘बेदखल’, ‘भय’, ‘उपस्थिति’, ‘मुक्ति-प्रसंग’ तथा ‘छावनी में बेघर’।

हमें विश्वास है कि इस सीरीज़ के माध्यम से पाठक सुविख्यात कथाकार अल्पना मिश्र की प्रतिनिधि कहानियों को एक ही जिल्द में पाकर सुखद संतोष का अनुभव करेंगे।

Alpana Mishra

अल्पना मिश्र
जन्म: 18 मई, 1969
शिक्षा: एम. ए. (हिंदी), पीएच. डी. (बनारस हिंदू विश्व- विद्यालय, वाराणसी)
प्रकाशित कृतियां: उपन्यास–‘अन्हियारे तलछट में चमका’
कहानी संग्रह–‘भीतर का वक्त’, ‘छावनी में बेघर’, ‘कब्र भी कैद औ’ जंजीरें भी’, ‘स्याही में सुरखाब के पंख’, ‘अल्पना मिश्र: चुनी हुई कहानियां’
संपादन–‘संबंधों की शृंखला’ (कहानी संग्रह)
आलोचना–‘सहस्त्रों विखंडित आईने में आदमकद’, ‘स्त्री कथा के पांच स्वर’, ‘स्वातंत्रयोत्तर कविता और रामदरश मिश्र का काव्य वैशिष्ट्य’
विशेष—कहानियां, कविताएं एवं लेख अनेक प्रतिष्ठित पत्रा-पत्रिकाओं में प्रकाशित; कुछ कहानियां पंजाबी, बांग्ला, कन्नड़, अंगे्रजी, मलयालम, जापानी, रूसी आदि भाषाओं में अनूदित; कुनूर विश्वविद्यालय, केरल; इलाहाबाद विश्वविद्यालय, इलाहाबाद; हिंदी विद्यापीठ, त्रिवेन्द्रम; अवध विश्वविद्यालय, फैजाबाद; केरल विश्वविद्यालय, केरल आदि देश के अनेक विश्वविद्यालयों में बी. ए. तथा एम. ए. के पाठ्यक्रम में कहानियां शामिल
सम्मान: ‘शैलेश मटियानी स्मृति कथा सम्मान 2006’, ‘परिवेश सम्मान 2006’, ‘राष्ट्रीय रचनाकार सम्मान, भारतीय भाषा परिषद, कोलकाता 2008’, ‘शक्ति सम्मान 2008’, ‘प्रेमचंद कथा सम्मान 2014’, ‘वनमाली कथा सम्मान 2017’
संप्रति: हिंदी विभाग, दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली-110007

Scroll