Chhuttiyan

Ajit Kumar

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
50.00 45 + Free Shipping


  • Year: 2001

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 9788170162001

छुट्टियाँ
पूरी मनाली एक अनपढी पुस्तक की भांति सामने खुली थी । इसे कितनी ही बार पढ़ो, हर बार यह बिलकुल ताजी, अनछुई-सी जान पड़ेगी, विद्रोही जी ने सोचा । फिर मीरा को इशारे से बताया, “वह देख रही हो—नीचे, सामने, उधर दूर पर, वो पतली-सी सड़क । हाँ, हाँ, वही, जिस पर अभी एक मोटर आती दिखाई दी थी । वह कुल्लू-मनाली सड़क है । उसी से होकर कल शाम हम यहीं पहुँचे थे... " 
सफ़रनामे, कहानी, कविता, फंतासी, रपट और व्यंग्य आदि विधाओं को अपने  में घुलाती-मिलाती अजितकुमार की यह प्रथम औपन्यासिक रचना 'छुट्टियाँ' उसी अर्थ में एक उपन्यास है, जिसमें अजितकुमार के लिए 'कविता के रूप में प्रस्तुत प्रत्येक रचना कविता है और वह भी कविता है जो भले ही उस रूप में न प्रस्तुत की गई हो पर किसी को कविता प्रतीत हो ।'
साहित्यिक विधाओं की परस्पर घुसपैठ के इस युग में, जब उपन्यास की अलग पहचान गुम हो चली हो और वह ऐतिहासिक, सामाजिक, जासूसी, फुटपाथी आदि शिकंजों में फाँस दिया गया हो. 'छुट्टियां' प्रमुखत: कुतूहल पर आधारित है, बावजूद इस भय के कि हिंदी के अतिवृद्ध और अकालवृद्ध परिवेश में, उसे बालोपयोगी या किशोरोपयोगी समझ लिया जाएगा ।

Ajit Kumar

अजितकुमार पूरा नाम : अजितकुमार शंकर चौधरी जन्म : 9 जून, 1933, लखनऊ शिक्षा : इलाहाबाद विश्वविधालय से हिंदी में उच्च शिक्षा कार्य : पहले डी०ए०वी० कॉलेज, कानपुर (1953-56), फिर किरोडीमल कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय (1962-1998) में अध्यापन, बीच की अवधि में विदेश मंत्रालय, नई दिल्ली (1956-1962) के हिंदी विभाग में अनुवाद । अब सेवानिवृत्त और लेखन में संलग्न । तिथिक्रम में प्रकाशन : स्वतंत्र लेखन : 'अकेले कंठ की पुकार' (कविता : 1958), 'अंकित होने दो' (विविधा : 1962), 'ये फूल नहीं' (कविता : 1970), "कविता का जीवित संसार' (आलोचना : 1972), 'छाता और चारपाई' (कहानियां : 1986), 'सफ़री झोले में', (यात्रा : 1986), 'घरौंदा' (कविता : 1987), 'हिरनी के लिए' (कविता : 1993), 'छुट्टियां' (उपन्यास : 1994), "यहां से कहीँ भी' (यात्रा : 1997), 'घोंघे' (कविता : 1996), 'इधर की हिंदी कविता' (आलोचना : 1999), 'ऊसर' (कविता : 2001), 'कविवर बच्चन के साथ' (अंकन : 2009), 'अंधेरे से जुगनू' (संस्मरण : 2010), 'सफरी झोले में कुछ और' (यात्रा : 2010), 'अजितकुमार रचना-संचयन' (2011), दिल्ली हमेशा दूर' (2012), ‘दूर वन से निकट वन में' (2012) । संपादन : 'बच्चन निकट से' (संस्मरण : 1968), 'कविताएं' (1954, 1963, 1964, 1965), 'हिंदी की प्रतिनिधि श्रेष्ठ कविताएं' (1, 2, 3), 'समीक्षायन' (1965), 'गद्य की पगडंडियां' (1967), "आचार्य शुक्ल विचारकोश' (1974), "बच्चन रचनावली' (नौ खंडों से बच्चन-समग्र : 1983), 'सुमित्रा कुमारी सिन्हा रचनावली' (1990), 'बच्चन के चुने हुए पत्र' (2001), 'कीर्ति चौधरी की कविताएं' (2006), ‘कीर्ति चौधरी की कहानियां' (2006), 'समग्र कविताएं' कीर्ति चौधरी (2010), 'नागपूजा और ओंकारनाथ की अन्य कहानियां' (2010), 'बच्चन कं साथ क्षण-भर' (संचयन : 2010), 'दुनिया रंग-बिरंगी' (2011) ।

Scroll