Udne Ko Aakash Mile

Madhav Kaushik

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
350.00 228 + Free Shipping


  • Year: 2018

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 978-81-937925-5-1

हिंदी के सुविख्यात एवं चर्चित गजलकार माधव कौशिक की ग़जलों की पृष्ठभूमि में वर्तमान समाज तथा समय अपनी संपर्ण जटिलताओंविषमताओं तथा विसंगतियों के साथ उपस्थित है। भूमंडलीय तथा बाजारवाद जनित उपभोक्तावादी अपसंस्कृति ने मानव मूल्यों को हाशिये पर धकेल दिया है। अंतराष्ट्रीय आतंकवाद ने इस विषैले वातावरण को रक्तरंजित कर और अधिक भयावह बना दिया है।

उड़ने को आकाश मिले संग्रह की गज़लों में ऐसी ही विषम परिस्थितियों में फँसे आम आदमी के जीवन संघर्ष को पूरी मार्मिकता और संवेदनशीलता के साथ अंकित किया गया है। सामान्यजन की प्रत्येक आह और कराह को दर्ज करते हुए रचनाकार ने उनकी अदम्य जिजीविषासंघर्षशीलता तथा अटूट आस्था को प्रभावशाली ढंग से अभिव्यक्त किया है। ग़ज़लकार का विश्वास है कि यदि हाशिये पर खडे़ लोगों को उड़ने के लिए आकाश मिले तो वे सामाज में आमूलचूल परिवर्तन लाने की क्षमता रखते हैं।

सहजसरल तथा सृजनात्मक भाषा में लिखी इस संग्रह की ग़जलें पाठकों की संवेदना तथा सोच के आसमान को और अधिक विस्तार देने में सफल रहेगीइस विश्वास के साथ यह गजल-संग्रह आपको सौंप रहे हैं।
    

Madhav Kaushik

जन्म : 1 नवंबर, 1954, भिवानी (हरियाणा)

शिक्षा :  एम-.. (हिंदी), बीएड., स्नातकोत्तर अनुवाद डिप्लोमा

प्रकाशित पुस्तकें आईनों के शहर मेंकिरण सुबह कीसपने खुली निगाहों केहाथ सलामत रहने दोआसमान सपनों कानई सदी का सन्नाटासूरज के उगने तकअंगारों पर नंगे पाँवखूबसूरत है आज भी दुनियासारे सपने बागी हैं (गजल संग्रह), सुनो राधिकालौट आओ पार्थ (पुरस्कृत खंड काव्य), मौसम खुले विकल्पों काशिखर संभावना केजोखिम भरा समय है (नवगीत), ठीक उसी वक्त (पुरस्कृत), रोशनी वाली खिड़की (कथा संग्रह), सबसे मुश्किल मोड़ परएक अदद सपने की खातिर (कविता संग्रह), बाल साहित्यअनुवाद  आलोचना की कुछ महत्त्वपूर्ण पुस्तकों के अलावा दो पुस्तकें संपादित

विशेष :  कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से  ‘माधव कौशिक का रचना संसार’ विषय पर पी-एचडी-, ‘सुनो राधिका-कथ्य और शिल्प’ विषय पर एमफिलके लिए शोध, ‘माधव कौशिक की गजल यात्र’ विषय पर एमफिलके लिए शोध, ‘सबसे मुश्किल मोड़ पर संवेदना और शिल्प विषय पर हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय से एमफिलशोधनवगीतकार माधव कौशिक विषय पर एमफिलशोध (हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय), ‘लौट आओ पार्थ कथ्य एवं शिल्प’ विषय पर एमफिलशोध (हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय)

प्रमुख उपलब्धियाँ :  हंस कविता सम्मानरवीन्द्रनाथ वशिष्ठ सम्मानसहस्त्रब्दी सम्मान (विश्व हिंदी सम्मेलननई दिल्ली), हरियाणा साहित्य अकादमी द्वारा बाबू बाल मुकन्द गुप्त सम्मानअखिल भारतीय बलराज साहनी पुरस्कारहरियाणा साहित्य अकादमी द्वारा महाकवि सूरदास सम्मानभाषा विभाग पंजाब द्वारा शिरोमणि हिंदी साहित्यकार सम्मान, ‘हरी-भरी हरियाली धरतीटेलीफिल्म के गीत एवं पटकथा का लेखनजोहांसबर्ग (दक्षिण अफ्रीकामें आयोजित 9वें विश्व हिंदी सम्मेलन में भारतीय साहित्य अकादमी की ओर से भागीदारीउपाध्यक्षराष्ट्रीय साहित्य अकादमीनई दिल्लीअध्यक्षचंडीगढ़ साहित्य अकादमी

Scroll