Yug Pravartak Swami Dayanand (Paperback)

Lala Lajpat Rai

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
80 + 25.00


  • Year: 2006

  • Binding: Paperback

  • Publisher: Arya Prakashan Mandal

  • ISBN No: 978-81-88118-28-1

Lala Lajpat Rai

लाला  लाजपतराय
जन्म : 28 जनवरी, 1865
शिक्षा ;-
शिक्षा का आरंभ राजकीय मिडिल स्कूल, रोपड़ से हुआ । सन 1880 में कलकत्ता तथा पंजाब विश्वविद्यालय से मैट्रिक की परीक्षा एक ही साथ उतीर्ण की और आगे  पढ़ने के लिए लाहौर आए । यहाँ गवर्नमेंट कॉलेज से 1882 में एफ़०ए० स्था मुख्तारी की परीक्षा साथ-साथ पास की ।  यहीं वे आर्यसमाज के संपर्क में आए । सन् 1885 में उन्होंने वकालत को परीक्षा उत्तीर्ण की । 
प्रमुख पुस्तकें :-
लाइफ एण्ड वर्क आँफ पं० गुरुदत्त विद्यार्थी एम०ए० ० महर्षि स्वामी दयानन्द सरस्वती और उनका काम ० योगिराज महात्मा श्रीकृष्णा का जीवन-चरित ० शिवाजी महाराज का जीवन-चरित ० महात्मा ग्वीसेप मैजिनी का जीवन-चरित ० गैरोबाल्डी ० सम्राटू अशोक ० दि आर्यसमाज ० दि मैसेज़ आँफ भगवद्गीता ० अनहैप्पी इण्डिया ० इंग्लैंड्स डे'ट टु इंडिया ० दि इवोल्यूशन आँफ जापान ० आईडियल्स आँफ नॉन-कोऑपरेशन एण्ड अदर एस्सेज़ ० इंडियाज़ विल टु फ्रीडम ०  राहर्टिग्स एण्ड स्पीसेज़ ऑन दि प्रेजेंट सिचुएशन ० दि प्रॉब्लम्स आँफ़ नेशनल एजुकेशन इन इंडिया ० दि पोलिटिकल  फ्यूचर आँफ इंडिया ० स्टोरी आँफ माई डिपोर्टेशन ० यंग डंडिया-एन इंटरप्रीटशन एण्ड हिइट्री आँफ दि नेशनल मूवमेंट ० रिपोर्ट ऑफ़ पीपल्स फैमिन रिलीफ मूवमेंट-- 1908 ० दि स्टोरी आँफ माई लाइफ़ ।
सन 1928 में साइमन कमीशन के विरोध में हजारों आंदोलनकारियों का नैतृत्व करते व 'साइमन, वापस जाओ' के नारे लगाते हुए पुलिस द्वारा छाती  लाठी  प्रहार से 18 दिन की पीडा भोगते हुए लालाजी 17 नवेम्बर, 1928 को परलोक सिधार गए ।

Scroll