Dus Pratinidhi Kahaniyan : Tejendra Sharma (Paperback)

Tajendra Sharma

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
170 + Free Shipping


  • Year: 2014

  • Binding: Paperback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 978-93-83233-35-9

दस प्रतिनिधि कहानियाँ : तेजेन्द्र शर्मा
'दस प्रतिनिधि कहानियाँ' सीरीज़ किताबघर प्रकाशन की एक महत्त्वाकांक्षी कथा-योजना है, जिसमें हिन्दी कथा-जगत् के सभी शीर्षस्थ कथाकारों को प्रस्तुत किया जा रहा है ।
इस सीरीज़ में सम्मिलित कहानीकारों से यह अपेक्षा की गई है कि वे अपने संपूर्ण कथा-दौर से उन दस कहानियों का चयन करें, जो पाठको, समीक्षकों तथा संपादकों के लिए मील का पत्थर रही हों तथा ये ऐसी कहानियाँ भी हों, जिनकी वजह से उन्हें स्वयं को भी कहानीकार होने का अहसास बना रहा हो। भूमिका-स्वरूप कथाकार का एक वक्तव्य भी इस सीरीज़ के लिए आमंत्रित किया गया है, जिसमें प्रस्तुत कहानियों को प्रतिनिधित्व सौंपने की बात पर चर्चा करना अपेक्षित रहा है ।
किताबघर प्रकाशन गौरवान्वित है कि इस सीरीज़ के लिए सभी कथाकारों का उसे सहज सहयोग मिला है। इस सीरीज़ के महत्त्वपूर्ण कथाकार तेजेन्द्र शर्मा ने प्रस्तुत संकलन में अपनी जिन दस कहानियों को प्रस्तुत किया है, वे हैं : 'कब्र का मुनाफा', मुझे मार डाल बेटा...!', 'हाथ से फिसलती ज़मीन...', 'ज़मीन भुरभुरी क्यों है....?', 'कोख का किराया', 'काला सागर', 'एक ही रंग', 'ढिबरी टाइट', 'कैंसर', तथा 'देह की कीमत है' ।
हमें विश्वास है कि इस सीरीज़ के माध्यम से पाठक सुविख्यात लेखक तेजेन्द्र शर्मा की प्रतिनिधि कहानियों को एक ही जिल्द में पाकर सुखद पाठकीय संतोष का अनुभव करेंगें ।

Tajendra Sharma

तेजेन्द्र शर्मा
जन्म : 21 अक्टूबर, 1952
शिक्षा : दिल्ली विश्वविद्यालय से एम.ए. अंग्रेजी, कंप्यूटर कार्य में डिप्लोमा।

प्रकाशित कृतियां : 'काला सागर' , 'ढिबरी टाइट है', 'देह की  कीमत', 'यह क्या हो गया!', 'बेघर आंखें', 'सीधी रेखा की परतें' (समय कहानियां भाग-1), 'कब्र का मुनाफा', 'दीवार में रास्ता' (कहानी-संग्रह) ० 'ये घर तुम्हारा है....' (कविता  एवं गजल-संग्रह) ० संपादन : 'समुद्र पार रचना संसार' (21 प्रवासी लेखकों की कहानियों का संकलन) ० 'यहां से वहां तक' (ब्रिटेन के कवियों का कविता-संग्रह) ० 'ब्रिटेन में उर्दू कलम', 'समुद्र पार हिंदी ग़ज़ल', 'प्रवासी संसार : कथा विशेषक' ० 'सृजन संदर्भ है (पत्रिका का प्रवासी साहित्य विशेषांक) ० 'देशान्तर' (प्रवासी कहानी-संग्रह) दिल्ली हिंदी अकादमी।
लंदन से प्रकाशित पत्रिका 'पुरवाई' का दो वर्षों तक संपादन।
पुरस्कार/सम्मान : केंद्रीय हिंदी संस्थान, आगरा का डॉ. मोटुरी सत्यनारायण सम्मान ० उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान का प्रवासी भारतीय साहित्य भूषण सम्मान ० हरियाणा राज्य साहित्य अकादमी सम्मान ० 'ढिबरी राइट' के लिए महाराष्ट्र राज्य साहित्य अकादमी पुरस्कार ० सहयोग फाउंडेशन का युवा साहित्यकार पुरस्कार ० सुपथगा सम्मान ० कृति यू. के.  द्वारा वर्ष 2002 के लिए 'बेघर आंखें' को सर्वश्रेष्ठ कहानी का पुरस्कार ० प्रथम संकल्प साहित्य सम्मान, हिंदी ० तितली बाल पत्रिका का साहित्य सम्मान, बरेली ० भारतीय उच्चायोग, लंदन द्वारा डॉ. हरिवंशराय बच्चन सम्मान।

संप्रति : ब्रिटिश रेल (लंदन ओवरग्राउंड) में कार्यरत।

Scroll