Dus Pratinidhi Kahaniyan : Aabid Surti

Aabid Surti

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
200.00 180 + Free Shipping


  • Year: 2014

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 9788170165811

'दस प्रतिनिधि कहानियाँ' सीरीज़ 'किताबघर' की एक महत्त्वाकांक्षी कथा-योजना है, जिसमें हिन्दी कथा-जगत् के सभी शीर्षस्थ कथाकारों को प्रस्तुत किया जा रहा है । इस सीरीज़ में सम्मिलित कहानीकारों से यह अपेक्षा की गई है कि वे अपने संपूर्ण कथा-दौर से उन दस कहानियों का चयन करें जो पाठको, समीक्षकों तथा संपादकों के लिए मील का पत्थर रही हों तथा ये ऐसी कहानियाँ भी हों जिनकी वजह से उन्हें स्वयं को भी कहानीकार होने का अहसास बना रहा हो। भूमिका-स्वरूप कथाकार का एक वक्तव्य भी इस सीरीज़ के लिए आमंत्रित किया गया है, जिसमें प्रस्तुत कहानियों को प्रतिनिधित्व सौंपने की बात पर चर्चा करना अपेक्षित रहा है । 'किताबघर' गौरवान्वित है कि इस सीरीज़ के लिए अग्रज कथाकारों का उसे सहज सहयोग मिला है। इस सीरीज़ के अत्यन्त महत्त्वपूर्ण कथाकार आबिद सुरती ने प्रस्तुत संकलन में अपनी जिन दस कहानियों को प्रस्तुत किया है, वे हैं : 'आतंकित', 'तीसरी आँख', 'सांताक्लोज़ के तीन क्लोज़अप', 'बिज्जू', 'सतह', 'अंधा', 'रहस्य एक बालक के जन्म पूर्व हुए अपहरण का', 'भैंसोंवाली गली', 'कैनाल' तथा 'अनाड़ी नंबर वन'। हमें विश्वास है कि इस सीरीज़ के माध्यम से पाठक सुविख्यात कथाकार आबिद सुरती की प्रतिनिधि कहानियों को एक ही जिल्द में पाकर सुखद पाठकीय संतोष का अनुभव करेंगें ।

Aabid Surti

आबिद सुरती पाँच मई उन्नीस सौ पैंतीस को गुजरात राज्य के राजुला (सौराष्ट्र) नामक स्थान में जन्मे आबिद सुरती ने मुंबई से एस०एस०सी० की तथा सर जे०जे० स्कूल ऑफ आर्ट्स में कला-अध्ययन किया । एक लेखक, चित्रकार और कार्टूनिस्ट के रूप में प्रख्यात । पिछले तीस वर्षों से हिंदी एवं गुजराती की विभिन्न पत्र-पत्रिकाओँ में लेखन । आकाशवाणी एवं मुंबई दूरदर्शन के लिए नाट्य-लेखन । इन दिनों फिल्म पटकथा-लेखन का भी कार्य । मुंबई दूरदर्शन द्वारा तीन उपन्यासों पर टेलीफिल्मों का निर्माण ।'राधे-राधे...हम सब आधे' शीर्षक नाटक का लेखन एवं निर्देशन । फ़िल्म सर्टिफिकेशन बोर्ड, फ़िल्म राइटर्स एसोसिएशन और एसोसिएशन ऑफ राइटर्स एण्ड इलस्ट्रेटर्स फॉर चिल्ड्रन (दिल्ली) के सदस्य । तीस वर्षों तक 'धर्मयुग' के अत्यंत लोकप्रिय कार्टून कोने 'डब्बू जी' का निरंतर चित्रांकन एवं लेखन । अब तक तीस उपन्यास, पाँच कहानी-संग्रह, चार बड़े नाटक, एक यात्रा-वृत्तांत, छह बालोपयोगी पुस्तके और करीब बारह कार्टून-संग्रह प्रकाशित । इन सभी में से ज्यादातर मराठी, हिंदी, अंग्रेजी, कन्नड़, मलयालम, तेलुगु, उड़िया, उर्दू और पंजाबी सहित कई प्रादेशिक भाषाओं में अनूदित । एक चित्रकार के रूप में आबिद सुरती अपनी कलाकृतियों की अनेक प्रदर्शनियां आयोजित कर चुके हैं । चित्रकला से उनके प्रयोगों पर भारत सरकार के फिल्म प्रभाग ने 'आबिद' शीर्षक एक रंगीन फिल्म भी बनाई थी, जिसका निर्देशन ख्यातिप्राप्त निर्देशक प्रमोदपति ने किया था ।

Scroll