Karmveer Pt. Sunderlal : Kuch Sansmaran

Sudhir Vidyarthi

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
125.00 113 + Free Shipping


  • Year: 1995

  • Binding: Hardback

  • Publisher: Arya Prakashan Mandal

  • ISBN No: 5574747883321

Sudhir Vidyarthi

सुधीर विद्यार्थी
जन्म : 1 अक्तूबर, 1953 ई०, उत्तर प्रदेश के एक गाँव में
शिक्षा : रुहेलखण्ड विश्वविद्यालय से इतिहास में एम० ए०
यशपाल और मन्मथनाथ गुप्त के बाद भारतीय क्रांतिकारी आन्दोलन के इतिहास-लेखकों में सुपरिचित । शहीदों और क्रांतिकारियों की कीर्ति-रक्षा के लिए पं० बनारसीदास चतुर्वेदी की परम्परा से प्रतिबद्ध जीवनी और संस्मरणकार । क्रांतिकारियों के आदर्शों और सिद्धांतों के प्रचार-प्रसार के लिए समर्पित । बायें बाजू के हामी और लेखन में सहजता के पक्षधर।  शहीदों के विचारों, खासकर भगतसिंह की प्रासंगिकता की जोरदार हिमायत ।
1985 से साहित्यिक पत्रिका 'संदर्श' का संपादन । 'जन संस्कृति मंच' की राष्ट्रीय परिषद के सदस्य।  उत्तर प्रदेश के एक बड़े  कर्मचारी संगठन का प्रदेशीय नेतृत्व किया । इसी के तहत एक बार जेल-यात्रा और 1992 में उच्च न्यायालय द्वारा शाहजहाँपुर से जिला बदर।  शीर्षस्थ पत्र-पत्रिकाओं में अनेक शोधपूर्ण लेखों, संस्मरणों, साक्षात्कारों और यात्रा-वृत्तांतों का प्रकाशन । अनेक लेखों का पंजाबी, उदूँ आदि में अनुवाद ।
प्रकाशित पुस्तकें : 'अशफाकउल्ला और उनका युग', 'शहीद रोशनसिंह', 'मेरा राजहंस', 'मौलवी अहमदउल्ला शाह', 'भगतसिंह की सुनें', 'केरल : साहित्य, कला और संस्कृति' तथा 'हृदयेश' आदि । कई ट्रैक्ट भी प्रकाशित । बहुचर्चित कृति 'अशाफाकउल्ला और उनका युग' का मलयालम अनुवाद प्रकाश्य ।

Scroll