Dus Pratinidhi Kahaniyan : Amrit Lal Nagar (Paperback)

Amritlal Nagar

Availability: In stock

Seller: KGPBOOKS

Qty:
90 + Free Shipping


  • Year: 2016

  • Binding: Paperback

  • Publisher: Kitabghar Prakashan

  • ISBN No: 978-81-7016-652-8

दस प्रतिनिधि कहानियाँ : अमृतलाल नागर
'दस प्रतिनिधि कहानियाँ' सीरीज़ किताबघर प्रकाशन की एक महत्त्वाकांक्षी कथा-योजना है, जिसमें हिन्दी कथा-जगत् के सभी शीर्षस्थ कथाकारों को प्रस्तुत किया जा रहा है ।
इस सीरीज़ में सम्मिलित कहानीकारों से यह अपेक्षा की गई है कि वे अपने संपूर्ण कथा-दौर से उन दस कहानियों का चयन करें, जो पाठको, समीक्षकों तथा संपादकों के लिए मील का पत्थर रही हों तथा ये ऐसी कहानियाँ भी हों, जिनकी वजह से उन्हें स्वयं को भी कहानीकार होने का अहसास बना रहा हो। भूमिका-स्वरूप कथाकार का एक वक्तव्य भी इस सीरीज़ के लिए आमंत्रित किया गया है, जिसमें प्रस्तुत कहानियों को प्रतिनिधित्व सौंपने की बात पर चर्चा करना अपेक्षित रहा है ।
किताबघर प्रकाशन गौरवान्वित है कि इस सीरीज़ के लिए सभी कथाकारों का उसे सहज सहयोग मिला है। इस सीरीज़ के महत्त्वपूर्ण कथाकार अमृतलाल नागर ने प्रस्तुत संकलन में अपनी जिन दस कहानियों को प्रस्तुत किया है, वे हैं : 'किस्सा बी सियासत भठियारिन और एडीटर बुल्लेशाह का', 'एक दिल हजार अफसाने', 'जंतरर्-मंतर', 'मन के संकेत', 'लंगूर का बच्चा', ‘शकीला की माँ', 'सती का दूसरा ब्याह', 'ओढ़री सरकार', 'सूखी नदियाँ' तथा 'पाँचवाँ दस्ता' । संपादक द्वारा लिखी गई पुस्तक की भूमिका के माध्यम ते अमृतलाल नागर की समग्र कथा-यात्रा और उसके महत्त्व से भी सहज ही परिचित हुआ जा सकता है ।
हमें विश्वास है कि इस सीरीज़ के माध्यम से पाठक सुविख्यात लेखक अमृतलाल नागर की प्रतिनिधि कहानियों को एक ही जिल्द में पाकर सुखद पाठकीय संतोष का अनुभव करेंगें ।

Amritlal Nagar

अमृतलाल नागर

जन्म : 17 अगस्त, 1916, आगरा

शिक्षा : हाई स्कूल

जीविका : 1940-47 : बंबई, कोल्हापुर, मद्रास में सिनेमा के लिए लेखन ० दिसंबर; 1953- मई, 1956 : आकाशवाणी, लखनऊ में ड्रामा प्रोड्यूसर ० शेष जीवन स्वतंत्र लेखन ।

प्रकाशित कृतियाँ : 'महाकाल' (भूख), 'बूँद और समुद्र’, 'शतरंज के मोहरे', 'सुहाग के नूपुर', 'अमृत और विष', 'सात घूँघट वाला मुखडा', 'एकदा नैमिशरण्ये', 'मानस का हंस', 'नाच्यौ  बहुत गोपाल', 'खंजन नयन', 'बिखरे तिनके', 'अग्निगर्भा',  'करवट', 'पीढ़ियाँ' (उपन्यास) ० 'एक दिल हजार अफ़साने' (संपूर्ण कहानियाँ) ० 'गदर के फूल', 'ये कोठेवालिया', 'जिनके साथ जिया', 'टुकड़े-टुकड़े  दास्तान', 'साहित्य और संस्कृति', 'फिल्मक्षेत्रे -रंगक्षेत्रे ' (संस्मरण, रिपोर्ताज एवं निबंध आदि) ० 'चैतन्य महाप्रभु' (जीवनी) ० 'नवाबी मसनद', 'सेठ बांकेमल', 'कृपया दाएं चलिए', 'हम फिदाये लखनऊ', 'मेरी श्रेष्ठ व्यंग्य रचनाएँ', 'चकल्लस' (हास्य-व्यंग्य) ० 'युगावतार', 'बात की बात', 'चंदन वन', 'चक्करदार सीढियाँ और अंधेरा', 'उतार-चढाव', 'नुक्कड़ पर', 'चढ़त न दूजो रंग' (नाटक-संग्रह) ० 'बजरंगी नौरंगी', 'बजरंगी पहलवान', 'बजरंगी स्मगलरों के फंदे में’, 'बाल महाभारत', 'हमारे युग-निर्माता', 'छह युगपुरुष', 'अक्ल बड़ी या भैंस', 'सतखंडी हवेली का मालिक’, 'फूलों की घाटी', बाल दिवस की रेल', 'सात भाई चम्पा' आदि (बाल-साहित्य) ० 'अमृत मंथन' (अमृतलाल नागर के साक्षात्कार) संपा० :- शरद नागर, आनंद प्रकाश त्रिपाठी ।

स्मृति-शेष : 23 फरवरी, 1990

Scroll